उत्तराखंड सामान्य ज्ञान इन हिंदी

1 608

उत्तराखंड सामान्य ज्ञान इन हिंदी

उत्तराखंड का सामान्य ज्ञान Pdf-  सभी कॉम्पीटिशन एग्जाम के समान्य ज्ञान के सेक्शन के अन्दर सभी राज्य की समान्य ज्ञान से सम्बंधित से प्रश्न ही पूछे जाते है और यदि कोई भी उत्तराखंड पुलिस या कोई राज्य लेवल का एग्जाम है उसके अन्दर सबसे ज्यादा राज्य से सम्बंधित सामान्य ज्ञान के प्रश्न पूछते है जैसेः राज्य की जनसँख्या ,राजभाषा ,राजधानी आदि से सबंधित बहुत से प्रश्न बनते है इसलिए कोई भी उमीदवार जो किसी कॉम्पीटिशन एग्जाम कि तैयारी कर रहा है उसे सभी राज्य समान्य ज्ञान से सम्बंधित से रिलेटेड जानकारी होनी चाहिए तभी वाह समान्य ज्ञान के सेक्शन को अच्छी तरह से और जल्दी कर सकता है तो आज हम उत्तराखंड के जिले से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण  जानकारी देंगे  जो अक्सर एग्जाम में पूछे जाते है|

उत्तराखंड के जिले (Districts of Uttarakhand)

अल्मोड़ा

  • गठन – 1891
  • क्षेत्रफल – 3090 वर्ग किमी .
  • जनसँख्या – 621,972
  • तहसील – 11 (अल्मोड़ा, भिकियासैण, रानीखेत, धौलाछिना, स्यालदे, जैती, भनौली, द्वाराहाट, सोमेश्वर, चौखुटिया, सल्ट)
  • विकासखंड – 11 (ताड़ीखेत, भिकियासैण, लमगडा, धौलादेवी, स्यालदे, भैसियाछाना, हवालबाग, द्वाराहाट, ताकुला, चौखुटिया, सल्ट)

बागेश्वर

  • गठन – 1997
  • क्षेत्रफल – 2310 वर्ग किमी.
  • जनसँख्या -259,840
  • तहसील – 6 (बागेश्वर, कपकोट, गरुड़, कांडा, दुगनाकुरी, काफीगैर)
  • विकासखंड – 3 (बागेश्वर, कपकोट, गरुड़)

चमोली

  • गठन – 1960
  • क्षेत्रफल – 7692 वर्ग किमी .
  • जनसँख्या -391,114
  • तहसील – 8 (चमोली, कर्णप्रयाग, जोशीमठ, थराली, पोखरी, गैरसैंण, घाट, आदिबद्री)
  • विकासखंड – 8 (कर्णप्रयाग, जोशीमठ, थराली, गैरसैण, घाट, देवाल, दशोली, नारायणबगढ़)

चम्पावत

  • गठन – 1997
  • क्षेत्रफल – 1955.26 वर्ग किमी .
  • जनसँख्या -259,315
  • तहसील –  5 (चम्पावत, पाटी, पूर्णागिरी, लोहाघाट, बाराकोट)
  • विकासखंड – 4 (चम्पावत, लोहाघाट, बाराकोट, पाटी)

देहरादून

  • गठन – 1817
  • क्षेत्रफल – 3088 वर्ग किमी .
  • जनसँख्या -1,695,860
  • तहसीलें – 7 (चकराता, विकासनगर, देहरादून, ऋषिकेश, त्यूणी, डोईवाला, कालसी)
  • विकासखंड – 6 (चकराता, रायपुर, सहसपुर, डोईवाला, कालसी, विकासनगर)

हरिद्वार

  • गठन – 1988
  • क्षेत्रफल – 3090 वर्ग किमी .
  • जनसँख्या -1,927,029
  • तहसील – 5 (हरिद्वार, रुड़की, भगवनापुर, लक्सर, नारसन)
  • विकासखंड – 6 (रुड़की, भगवनापुर, लक्सर, नारसन, बहादराबाद, खानपुर)

नैनीताल

  • गठन – 1891
  • क्षेत्रफल – 3853 वर्ग किमी .
  • जनसँख्या -955,128
  • तहसील – 8 (नैनीताल, हल्द्वानी, रामनगर, धारी, कोश्याकुटौली, बेतालघाट, लालकुँआ, कालाढूंगी
  • विकासखंड – 8 (हल्द्वानी, भीमताल, रामगढ, कोटाबाग, रामनगर, बेतालघाट, ओखलकांडा, धारी)

पौड़ी गढ़वाल

  • गठन – 1840
  • क्षेत्रफल – 5438 वर्ग किमी .
  • जनसँख्या -686,572
  • तहसील – 10 (पौड़ी, श्रीनगर, थलीसैण, कोटद्वार, थुमाकोट, लैंसडाउन, यमकेश्वर, चौबटाखाल, चकीसैण, सतपुली)
  • विकासखंड – 15 (कलजीखाल, पौड़ी, थलीसैण, पाबौ, रिखणीखाल, बीरोंखाल, दुगड्डा, लैंसडाउन, कोट, द्वारीखाल, यमकेश्वर, पोखड़ा, नैनिडाडा, खिर्सू, पाणाखेत)

पिथौरागढ़

  • गठन – 1960
  • क्षेत्रफल – 7110 वर्ग किमी .
  • जनसँख्या -485,993
  • तहसील – 10 (पिथौरागढ़, धारचूला, मुनस्यारी, डीडीहाट, कनालीछीना, बेरीनाग, बंगापनी, गणाई-गंगोली, देवलथल, गंगोलीहाट)
  • विकासखंड – 8 (मुनस्यारी, धारचूला, बेरीनाग, डीडीहाट, कनालीछीना, गंगोलीहाट, पिथौरागढ़, मूनाकोट)

रुद्रप्रयाग

  • गठन – 1997
  • क्षेत्रफल – 1984 वर्ग किमी .
  • जनसँख्या -236,857
  • तहसील – 3 (ऊखीमठ, जखोली, रुद्रप्रयाग)
  • विकासखंड – 3 (ऊखीमठ, अगस्त्यमुनि, जखोली)

टिहरी गढ़वाल

  • गठन – 1949
  • क्षेत्रफल – 4085 वर्ग किमी .
  • जनसँख्या -616,409
  • तहसील – 10 (टिहरी, नरेन्द्र नगर, प्रतापनगर, देवप्रयाग, घनसाली, जाखणीधार, धनोल्टी, कांडीसौड़, गजा, नैनाबाग़)
  • विकासखंड – 10 (टिहरी, चम्बा, प्रतापनगर, जौनपुर, नरेन्द्रनगर, देवप्रयाग, कीर्तिनगर, घनसाली, जाखाणीधार, धौलधार)

उधम सिंह नगर

  • गठन – 1995
  • क्षेत्रफल – 2912 वर्ग किमी .
  • जनसँख्या -1,648,367
  • तहसील – 8 (काशीपुर, गदरपुर, जसपुर, खटीमा, किच्छा, सितारगंज, बाजपुर, रुद्रपुर
  • विकासखंड – 7 (जसपुर, खटीमा, सितारगंज, काशीपुर, रुद्रपुर, बाजपुर, गदरपुर)

उत्तरकाशी

  • गठन – 1960
  • क्षेत्रफल – 8016 वर्ग किमी .
  • जनसँख्या -329,686
  • तहसील – 6 (भटवाड़ी, डुंडा, पुरोला, मोरी, चिन्यालीसैड़, बड़कोट)
  • विकासखंड – 6 (भटवाड़ी, डुंडा, पुरोला, मोरी, चिन्यालीसैड़, नौगाव)

उत्तराखण्ड  भौगोलिक विभाजन

  1. गंगा का मैदानी क्षेत्र
  2.  तराई क्षेत्र
  3.  भाबर क्षेत्र
  4.  शिवालिक क्षेत्र
  5.  दून क्षेत्र (द्वार)
  6.  लघु (मध्य) हिमालयी क्षेत्र
  7.  वृहत हिमालयी क्षेत्र
  8.  ट्रांस हिमालयी क्षेत्र

गंगा  का मैदानी क्षेत्र –

  • दक्षिण हरिद्वार का गंगा का तटीय क्षेत्र

तराई क्षेत्र –

  • हरिद्वार में गंगा के मैदान के तुरन्त उत्तर का क्षेत्र
  • पौड़ी गढ़वाल व नैनीताल के दक्षिणी क्षेत्र
  • उधम सिंह नगर
  • चौड़ाई – 20 से 30 किमी
  • इस क्षेत्र में पातालतोड़ कुएं (Artision Wells) पाये जाते हैं।

भाबर क्षेत्र –

  • तराई क्षेत्र के तुरन्त उत्तर तथा शिवालिक की पहाड़ियों के दक्षिण 10 से 12 कीमी चौड़े क्षेत्र को भाबर कहते हैं।
  • इस क्षेत्र की भूमि उबड़-खाबड़ और मिट्टी  कंकड़, पत्थर तथा मोटे बालू से युक्त होती है।
  • इस क्षेत्र का निर्माण प्लीस्टोनीन युग का माना जाता है।
  • इस क्षेत्र की मिट्टी कृषि के लिए अनउपयुक्त है।

शिवालिक क्षेत्र –

  • भाबर के उत्तर में स्थित पहाड़ियो को शिवालिक कहा जाता है।
  • इसे वाह्य हिमालय या हिमालय का पाद भी कहा जाता है।
  • इसकी चोटियों की ऊंचाई 700 से 1200 मीटर के बीच है।
  • यह श्रेणी हिमालय का सबसे नवीन भाग है।
  • इसका निर्माण काल मायोसीन से निम्न प्लाइस्टोसीन तक माना जाता है।

दून क्षेत्र (द्वार) –

  • शिवालिक तथा मध्य हिमालय के बीच का क्षेत्र
  • चौड़ाई- 24 से 32 कीमी, ऊचाई- 350 से 750 मी.
  • देहरा (देहरादून), कोठारी व चौखम (पौड़ी), पतली व कोटा (नैनीताल) आदी प्रमुख दून हैं।

लघु (मध्य) हिमालयी क्षेत्र-

  • यह पर्वत श्रेणी शिवालिक के उत्तर तथा वृहत हिमालय के दक्षिण चम्पावत, नैनीताल, अल्मोड़ा, पौड़ी, चमोली, रूद्रप्रयाग, टिहरी, उत्तरकाशी तथा देहरादून आदी 9 जिलो में विस्तृत है।
  • ऊंचाई – 1200 से 4500 मी.
  • लघु हिमालय के अर्न्तगत चमोली, पौड़ी तथा अल्मोड़ा जिलो के मध्ल फैले दूधातोली श्रृंखला को उत्तराखण्ड का पामीर कहा जाता है।
  • इस क्षेत्र में शीतोष्ण कटिबंधीय सदाबहार प्रकार के कोणधारी सघन वन मिलते है।

वृहत (उच्च) हिमालयी क्षेत्र-

  • यह क्षेत्र लघु हिमालय के उत्तर व ट्रंास हिमालय के दक्षिण में स्थित है
  • ऊंचाई – 4500 से 7817 मी.
  • वृहत हिमालय की प्रमुख चोटियां
    • नंदादेवी (चमोली) – 7817 मी.
    • कामेट (चमोली) – 7756 मी.
    • नंदादेवी पूर्वी (चमोली-पिथौरागढ़) – 7434 मी.
    • माणा (चमोली) – 7272 मी.
    • बद्रीनाथ (चमोली) -7140 मी.
    • पंचाचूली (पिथौरागढ़) – 6904 मी.
    • श्रीकंठ (उत्तरकाशी) – 6728 मी.
    • नन्दाकोट (चमोली-पिथौरागढ़) – 6861 मी.
    • नंदाधुगटी (चमोली) – 6309 मी.
    • गंधमाधन (चमोली) – 6984 मी.
    • त्रिसूल (चमोली) – 7120 मी.

ट्रांस हिमालयी क्षेत्र-

  • यह महाहिमालय के उत्तर में स्थित है।
  • इसका कुछ भाग भारत में और कुछ चीन में है।
  • ऊंचाई – 2500 से 3500 मी.
  • इस क्षेत्र की पर्वत श्रेणीयो को जैक्सर श्रेणी कहा जाता है।

हमने इस पोस्ट में उत्तराखंड सामान्य ज्ञान क्विज उत्तराखंड का सामान्य ज्ञान pdf उत्तराखंड सामान्य ज्ञान 2018 pdf download उत्तराखंड सामान्य ज्ञान प्रश्न उत्तर 2017 नवीनतम सामान्य ज्ञान के सवालों के जवाब उत्तराखंड  उत्तराखंड सामान्य ज्ञान 2016 uttarakhand general knowledge questions and answers in hindi से संबंधित  जानकारी दी है और आगे आने वाली परीक्षाओं में भी इनमें से काफी प्रश्न पूछे जा सकते हैं. तो इन्हें ध्यानपूर्वक पढ़ें. अगर इनके बारे में आपका कोई भी सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट करके पूछो और अगर आपको यह  जानकारी  फायदेमंद लगे तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें.

You might also like
1 Comment
  1. कानाराम says

    पृथ्वी से सबसे नजदीक ग्रह कौन सा है

Leave A Reply

Your email address will not be published.